• मुख्य सामग्री पर जाएं /
  • स्क्रीन रीडर का उपयोग

राष्ट्रपति की प्रोफाइल


Profile of the president

श्री राम नाथ कोविन्द पेशे से एक वकील, वरिष्ठ राजनीतिक प्रतिनिधि तथा भारतीय सार्वजनिक जीवन और समाज में समतावाद और प्रामाणिकता के लंबे समय से समर्थक रहे हैं। उनका जन्म 1 अक्तूबर, 1945 को उत्तर प्रदेश के जिला कानपुर देहात के ग्राम परौंख में हुआ था।

श्री कोविन्द ने 25 जुलाई, 2017 को भारत के 14वें राष्ट्रपति का पद ग्रहण किया। इसके पहले उन्होंने 16 अगस्त, 2015 से 20 जून, 2017 तक बिहार राज्य के 36वें राज्यपाल के रूप में कार्य किया।

शैक्षिक और कार्य सम्बन्धी पृष्ठभूमि

श्री राम नाथ कोविन्द ने कानपुर से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की तथा कानपुर विश्वविद्यालय से बी.कॉम और एलएल.बी. की उपाधियां प्राप्त कीं। 1971 में उन्होंने दिल्ली बार काउंसिल में अधिवक्ता के रूप में प्रवेश किया।

श्री कोविन्द, 1977 से 1979 तक दिल्ली हाई कोर्ट में केन्द्र सरकार के अधिवक्ता रहे। 1978 में वह भारत के सुप्रीम कोर्ट में एडवोकेट ऑन रिकॉर्ड बने। 1980 से 1993 तक सुप्रीम कोर्ट में केन्द्र सरकार के स्थायी अधिवक्ता रहे। उन्होंने वर्ष 1993 तक लगभग 16 वर्ष दिल्ली हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में वकालत की।

संसदीय और सार्वजनिक जीवन

श्री राम नाथ कोविन्द उत्तर प्रदेश से राज्य सभा के सदस्य के रूप में निर्वाचित होने पर अप्रैल, 1994 में सांसद बने। मार्च, 2006 तक 6-6 वर्ष के लगातार दो कार्यकालों में वे राज्य सभा सांसद रहे। श्री कोविन्द अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति कल्याण सम्बन्धी संसदीय समिति; गृह मंत्रालय सम्बन्धी संसदीय समिति, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस सम्बन्धी संसदीय समिति, सामाजिक न्याय और अधिकारिता सम्बन्धी संसदीय समिति; तथा विधि और न्याय सम्बन्धी संसदीय समिति में सदस्य रहे। वे राज्य सभा आवास समिति के अध्यक्ष भी रहे।

श्री कोविन्द ने डॉक्टर बी.आर. अंबेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ के प्रबंधन बोर्ड के सदस्य के रूप में तथा भारतीय प्रबंधन संस्थान, कोलकाता के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के सदस्य के रूप में भी कार्य किया। संयुक्त राष्ट्र में भारतीय शिष्टमंडल के सदस्य के रूप में उन्होंने 22 अक्तूबर, 2003 को संयुक्त राष्ट्र आम सभा को सम्बोधित किया।

धारित पद

1977-1979 : दिल्ली हाई कोर्ट में केंद्र सरकार के अधिवक्ता

1980-1993 : सुप्रीम कोर्ट में केन्द्र सरकार के स्थायी अधिवक्ता

1994-2006 : राज्य सभा संसद सदस्य, उत्तर प्रदेश राज्य के प्रतिनिधि के रूप में

2015-2017 : बिहार के राज्यपाल

वैयक्तिक विवरण

श्री राम नाथ कोविन्द का विवाह 30 मई, 1974 को श्रीमती सविता कोविन्द के साथ हुआ। उनके एक पुत्र और एक पुत्री है। राष्ट्रपति जी को पढ़ने का बेहद शौक है और राजनीति एवं सामाजिक परिवर्तन, विधि और इतिहास तथा अध्यात्म सम्बन्धी पुस्तकों के अध्ययन में उनकी विशेष रुचि है।

अपने दीर्घ सार्वजनिक जीवन में, श्री कोविन्द ने देश और विदेश की व्यापक यात्राएं की हैं। भारत के राष्ट्रपति के रूप में, श्री राम नाथ कोविन्द ने 2017 में जिबूती, इथियोपिया और 2018 में मॉरीशस, मेडागास्कर, इक्वेटोरियल गिनी, इस्वातिनी राज्य (स्वाजीलैण्ड), जाम्बिया, यूनान, सूरीनाम, क्यूबा, साइप्रस गणराज्य, बल्गारिया गणराज्य, चेक गणराज्य, ताजिकिस्तान गणराज्य, वियतनाम, आस्ट्रेलिया, सिंगापुर और म्यांमार संघ की यात्राएं की हैं।

बिहार के राज्यपाल के रूप में, उन्होंने फरवरी, 2017 में लाओस पीपुल्स डेमोक्रेटिक रिपब्लिक की यात्रा की थी। संसद सदस्य के रूप में, उन्होंने थाईलैंड, नेपाल, पाकिस्तान, सिंगापुर, जर्मनी, स्विट्जरलैंड, फ्रांस, यूनाइटेड किंग्डम और संयुक्त राज्य अमेरिका की भी यात्रा की थी।

Go to Navigation