• मुख्य सामग्री पर जाएं /
  • स्क्रीन रीडर का उपयोग

प्रेस विज्ञप्ति

भारत के राष्ट्रपति ने तमिलनाडु डॉ. आंबेडकर लॉ यूनिवर्सिटी के विशेष दीक्षांत समारोह को संबोधित किया; तीन प्रतिष्ठित न्यायविदों को एल.एल.डी. की मानद उपाधि से सम्मानित किया

राष्ट्रपति भवन : 13.07.2019

भारत के राष्ट्रपति, श्री राम नाथ कोविन्द ने आज (13 जुलाई, 2019) चेन्नई में तमिलनाडु डॉ. आंबेडकर लॉ यूनिवर्सिटी के विशेष दीक्षांत समारोह में तीन प्रतिष्ठित न्यायविदों- भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश और वर्तमान में केरल के राज्यपाल, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) श्री पी. सदाशिवम; भारत के सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश, न्यायमूर्ति श्री शरद अरविंद बोबडे; और मद्रास उच्च न्यायालय की मुख्य न्यायाधीश, न्यायमूर्ति श्रीमती विजया कमलेश ताहिलरमानी को एल.एल.डी. की मानद उपाधि से सम्मानित किया।

इस अवसर पर राष्ट्रपति ने कहा कि जैसे-जैसे हमारा राष्ट्र, समाज और अर्थव्यवस्था विकसित हो रही है, हमें कानूनी साक्षरता को बढ़ाने और कानूनी नियमों को सरल बनाने की आवश्यकता है। लोगों को केवल न्याय दिलाना ही महत्वपूर्ण नहीं है, बल्कि दिए निर्णय मुक़दमे के पक्षकारों को उनकी भाषा में समझाना भी महत्वपूर्ण है। एक ऐसी प्रणाली विकसित की जा सकती है जिसके माध्यम से उच्च न्यायालयों द्वारा दिए गए निर्णयों की प्रमाणित अनुदित प्रतियाँ, स्थानीय या क्षेत्रीय भाषा में उपलब्ध कराई जाएं। प्रमाणित प्रतियों की भाषा सम्बंधित भाषाई क्षेत्र के अनुसार हो सकती है जैसे कि- केरल उच्च न्यायालय में मलयालम या मद्रास उच्च न्यायालय में तमिल।

Go to Navigation